paduka poojan 3

उपासनाके आश्रममें परम पूज्य भक्तराज महाराज एवं परम पूज्य रामानंद महाराजकी चरण पादुका पूजन


१३ फरवरी २०१७ को इन्दौरके भक्तवत्सल आश्रमसे परम पूज्य भक्तराज महाराज एवं रामानन्द महाराजकी चरण पादुकाओंका आगमन, ४५ भक्तोंके साथ ‘उपासना’के देहली आश्रममें हुआ । आपको बता दें, परात्पर गुरु डॉ. जयंत आठवलेके (उपासनाके प्रेरणास्रोत) श्रीगुरु, इन्दौरके भक्तराज महाराज हैं, जिनका देहत्याग ख्रिस्ताब्द १९९५ में होनेके पश्चात्, उनके स्थानपर रामानन्द महाराज विराजमान हुए एवं अब वे भी समाधिस्थ हो चुके हैं । ऐसे महान सन्तोंके पादुकाओंका आगमन उपासनाके आश्रमके लिए अत्यन्त सौभाग्यकी बात है ।

इस कार्यक्रमके कुछ क्षणिकाएं इसप्रकार हैं –

१. उपासनाके साधक इस आयोजनसे अत्यधिक उत्साहित थे और सभी साधकोंने मिलकर आश्रमको बहुत सुन्दर सजाया था और उस दिवस आश्रममें प्रातःकालसे ही अत्यधिक चैतन्य था, ऐसा लग रहा था जैसे बाबा और दादाके आगमन हेतु सर्व देवी-देवता उनसे पूर्व ही उपस्थित हो गए हों ।

२. उपासनाके आमन्त्रणपर पादुका पूजनके समय हिन्दू जनजागृति समितिके राष्ट्रीय मार्गदर्शक पूज्य चारुदत्त पिंगळेजी भी पधारे थे । इसप्रकार सूक्ष्म रूपसे बाबा और दादा एवं स्थूल रूपसे पूज्य पिंगळे भैयाका विलक्षण सत्संग, सभी साधकों एवं भक्तोंको प्राप्त हुआ ।

३. पादुका पूजन एवं महाप्रसादके पश्चात् भक्तवत्सल आश्रमके भक्तोंने भजन गाकर सम्पूर्ण वातावरण एवं साधकोंको भाव-विभोर कर दिया ।

४. महाप्रसाद बनानेमें भक्तवत्सल आश्रमके भक्त जो प्रथम बार उपासनाके आश्रममें आये थे, उन सभीने बहुत ही प्रेमसे सहयोग दिया, ऐसा लगा जैसे सभी एक-दूसरेको अनेक वर्षोंसे जानते हों ।

५. बाबाको, भजन और भण्डारा करना अति प्रिय था और उस दिवस सभीने मिलकर दोनोंका ही आनन्द लिया ।



Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

सम्बन्धित लेख


विडियो

© 2017. Vedic Upasna. All rights reserved. Origin IT Solution