योगी आदित्यनाथका आदेश, कुंभकी भांति हो कांवड यात्राकी तैयारी !


जुलाई ४, २०१९

उत्तरप्रदेशके मुख्यमन्त्री योगी आदित्यनाथने प्रदेशके अधिकारियोंको कांवड यात्राकी तैयारी आरम्भ करनेका आदेश दिया है । मुख्यमन्त्रीने स्पष्ट कर दिया कि यात्राके मध्य डीजे बंद नहीं होंगे; परन्तु केवल भजन बजानेकी ही अनुमति होगी । एक माहतक चलनेवाली कांवड यात्रा १७ जुलाईको आरम्भ हो रही है ।

मुख्यमन्त्री योगी आदित्यनाथने अधिकारियोंसे कहा है कि कांवड यात्रियोंपर हेलिकॉप्टरसे फूल और पंखुडियां बरसानेकी व्यवस्था की जाए । लोकभवनमें आयोजित एक बैठकमें ये सभी निर्देश जारी किए । मुख्यमन्त्रीने स्पष्ट कर दिया कि यात्राके मध्य डीजे बंद नहीं होंगें; परन्तु चलचित्रोंके गाने नहीं चलेंगें । बैठकमें मुख्यमन्त्री योगी आदित्यनाथने अधिकारियोंसे उन कठिनाईयोंको चिह्नित करनेको कहा, जो कांवड यात्राके मध्य बाधा बन सकती है । कांवड यात्री बिना किसी कठिनाई अपनी सुखद यात्रा पूर्ण कर सकें, इसके लिए प्रत्येक क्षेत्र, जनपद और मण्डल स्तरपर विभागीय बैठकें करने और आपसमें तालमेल बैठानेका आदेश दिया गया है ।

यात्राके मध्य स्वच्छताका भी पूर्ण ध्यान रखा जाना है । मुख्यमन्त्रीने अपने निर्देशोंमें स्पष्ट कर दिया है कि थरमोकोल और प्लास्टिक थैले प्रयोग नहीं किए जाएंगें । मुख्यमन्त्रीने कहा कि प्रयागराजमें हुए कुंभ महोत्सवकी भांति ही कांवड यात्राकी तैयारी की जाए । सभी अधिकारियोंको उनके क्षेत्रमें शिव मन्दिरोंकी पहचान करने और वहां पेयजल, स्वच्छता, विद्युत और सुरक्षा सुनिश्चित करनेके लिए कहा गया है ।

योगी आदित्यनाथने बैठकमें अधिकारियोंसे कहा कि कांवड यात्रा मार्गपर या जिस स्थानपर कांवड यात्री ठहरते हैं, वहां मद्यके (शराबके) ठेके और अवैध बूचडखाने नहीं चलने चाहिए । इस वर्ष बकरीद और कांवड यात्राकी अंतिम सोमवारी एक ही दिवस, १२ अगस्तको है । मुख्यमन्त्री योगी आदित्यनाथने अधिकारियोंको निर्देश दिया है कि उस दिन पशुओंके अवैध वधकी आज्ञा नहीं होगी ।

इसलिए हिन्दुस्तानको चलानेके लिए हिन्दुत्वनिष्ठोंकी आवश्यकता है । कांवडयात्राकी व्यवस्थाके योगीजीके ये निर्णय प्रशंसनीय है ।”- सम्पादक, वैदिक उपासना पीठ

स्रोत : आजतक



Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

सम्बन्धित लेख


© 2017. Vedic Upasna. All rights reserved. Origin IT Solution