अन्तर्राष्‍ट्रीय समाचार

कोरोनासे मरनेवालोंको जलाया जाएगा : मुसलमानोंके दफनानेकी मांगको श्री लंका शासनने किया निरस्त


१२ अप्रैल, २०२० श्रीलंका सरकारने देशके अल्पसंख्यक मुसलमानोंकी आपत्तिको अनदेखा करते हुए ‘कोरोना’ विषाणुसे होनेवाली मृत्युका शवदाह करना अनिवार्य कर दिया है। कोरोनाके संक्रमणसे हुई सात मृत्युमें से तीन मुसलमान शवोका, इनके परिजनोंके अपार विरोधके पश्चातभी अंतिम संस्कार किया गया । श्रीलंकाके स्वास्थ्य मंत्री पवित्रा वन्नियाराचचीने कहा, “जिस व्यक्तिकी मौत कोरोना विषाणुसे हुई है या […]

आगे पढें

कठमुल्लोंका भ्रम दूर करने चले थे राकेश : दुबईमें चाकरी गई, इस्लामके अपमानमें दण्ड भी सम्भव


११ अप्रैल, २०२० एक हिन्दूको दुबईके किसी प्रतिष्ठान ‘एमरिल सर्विसेज’से निकल दिया गया, जब उसने किसी ‘ट्विटर’पर ‘कोरोना’से लडनेके लिए पांच बार नमाज पढनेवाले सन्देशपर आपत्ति प्रकट की तो  जैसे इस्लामवादियों और हिन्दुओंसे घृणा करनेवाले लोगोंकी प्रतिक्रियाकी झडी लग गई, जैसे वे इसी ताकमें बैठे थे । कोरोना विषाणुसे लडनेमें ५ बार नमाज पढनेका समर्थन […]

आगे पढें

ट्रंपका व्यक्तव्य – भारत न देता औषधिकी पूर्तिको स्वीकृति, तो देते कडा उत्तर


७ अप्रैल, २०२० कोरोना विषाणुका ग्रास बन रहे अमेरिकाने कठिन समयमें भारतसे सहायता मांगी है |  प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदीकी ओरसे भी डोनाल्ड ट्रंपको इस औषधिके लिए आश्वासन दिया गया था | आपको बता दें कि एक शोधमें समक्ष आया है कि ‘हाइड्रोक्सीक्लोरोक्वीन’ औषधि कोरोना विषाणुसे लडनेमें प्रभावी है, और ये औषधि विश्व में सबसे अधिक […]

आगे पढें

मस्जिदपर आक्रमणके पश्चात मुसलमानोंकी वेदना बांटने गया था नार्वेका ‘सेकुलर क्राउन प्रिंस’, लज्जित होकर लौटा !


७ सितम्बर, २०१९  यह घटना उस देशके लिए नूतन थी और किसी आश्चर्यचकित कर देनेवाली घटनासे कम तो बिल्कुल नहीं | यूरोपमें इस्लाम और ईसाइयतके मध्य जो खींचतान चल रही है उसी क्रममें नार्वेकी एक मस्जिदमें एक आक्रमणकारी घुस गया था और ‘फायरिंग’के पहले ही पकडा गया था | उसके बाद नार्वेके मुस्लिमोंने जिस प्रकारसे […]

आगे पढें

पूर्व ‘US’ डिफेंस सेक्रेट्रीका प्रखर वक्तव्य, कट्टरवादी समाजवाला पाकिस्तान विश्वका सबसे आतंकी देश !


४ सितम्बर २०१९ संयुक्त राष्ट्र अमेरिकाके पूर्व रक्षा सचिव जिम मैटिसने कहा है कि उन्होंने अपने कार्यकालके मध्य कई देशोंके साथ कार्य (डील) किया; परन्तु पाकिस्तान उनमें सबसे खतरनाक देश रहा। न्यूयॉर्कमें एक कार्यक्रमके मध्य उन्होंने कहा कि पाकिस्तान विश्वका सबसे खतरनाक देश है। पाकिस्तान एक बहुत बडी समस्या है। उन्होंने कहा कि ओसामा बिन […]

आगे पढें

सिख लडकियोंके पश्चात पाकिस्तानमें हिंदू छात्राका अपहरण, बलपूर्वक धर्म परिवर्तनका आरोप


२ सितम्बर, २०१९ पाकिस्तानमें अल्पसंख्यक समुदायकी लडकियोंके बलपूर्वक धर्म परिवर्तनकी घटनाएं थमनेका नाम नहीं ले रही हैं। २ सिख लडकियोंका अपहरणकर धर्म परिवर्तनके पश्चात अब एक हिंदू लडकीके साथ ऐसा ही प्रकरण सामने आया है। सिंध प्रांतमें २९ अगस्तको ‘बीबीए’ विद्यार्थी महाविद्यालयके लिए निकली; परन्तु घर लौटकर नहीं आई। इसके पश्चात उसके परिवारने परिवाद प्रविष्ट […]

आगे पढें

‘बीबीसी’ने उगला विष, रोहिग्याओंके जैसे प्रवासी भारतीयोंको भगानेका स्वप्न देख रहे हैं वुसतुल्लाह !


२ सितम्बर, २०१९ ‘बीबीसी’ने एक लेख प्रकाशित किया है। इस लेखको वुसतुल्लाह खानने लिखा है। खान भारतीयोंको चेतावनी दे रहे हैं। बीबीसी कह रहा है कि यदि ब्रिटेनके प्रधानमन्त्री बॉरिस जॉनसन अपने देशमें रह रहे सभी भारतीयोंको बोरिया-बिस्तर समेटनेका आदेश दे दें तो क्या होगा ?  इसीप्रकार कनाडा और अमेरिकामें भी किया जाए तो क्या […]

आगे पढें

मुस्लिम बहुल ट्यूनीशियाने आत्मघाती आतंकी आक्रमणके पश्चात नकाबपर लगाया प्रतिबंध !


जुलाई ६, २०१९ अफ्रीकाके मुसलमान देश ट्यूनीशियाके प्रधानमंत्रीने देशमें हुए आक्रमणोंके पश्चात सुरक्षा कारणोंसे शासकीय कार्यालयोंमें नकाबपर प्रतिबंध लगा दिया । प्रधानमंत्री यूसुफ चाहेदने एक परिपत्रपर हस्ताक्षर किए हैं, जिसके अनुसार, “शासकीय प्रशासनिक कार्यालयों एवं संस्थानोंमें किसी भी व्यक्तिके मुख ढककर आनेपर सुरक्षा कारणोंसे प्रतिबंध” लगानेकी बात की गई है । इस आदेशके अनुसार, सुरक्षा […]

आगे पढें

दलाई लामाका प्रखर वक्तव्य, पूरा यूरोप मुसलमान देश बन जाएगा, अप्रवासियोंको उनके देशोंमें वापस भेजा जाना आवश्यक !


जून २९, २०१९ तिब्बती धर्मगुरु दलाई लामाने अपने उत्तराधिकारीको लेकर कहा कि उनकी उत्तराधिकारी कोई सुदर महिला भी हो सकती है । उन्होंने ये बात २०१५ में भी कही थी और अभी भी वो अपनी इस बातपर अडिग हैं । उन्होंने कहा कि जितना महत्त्व बुद्धिका है, उतना ही सुन्दरताका भी है । दलाई लामाने […]

आगे पढें

श्रीलंकामें बौद्ध भिक्षुने कहा, “मुसलमानोंको पत्थर मारकर करो समाप्त !!”


जून २२, २०१९ श्रीलंकाके एक प्रसिद्ध बौद्ध भिक्षुने मुसलमानोंके विरुद्घ बडा वक्तव्य देते हुए कहा है कि उनको पत्थर मार-मारकर समाप्त कर देना चाहिए । श्रीलंकाके बडे बौद्ध भिक्षु वरकगौडा श्री गणरत्ना थेरोने कैंडीमें मुसलमानोंके विरुद्ध लक्ष्य साधा तथा कहा कि लोगोंको मुसलमानोंके भोजनालयोंमें खाना भी नहीं खाना चाहिए; क्योंकि वे सिंहली बौद्धोंको नपुंसक बना […]

आगे पढें

© 2017. Vedic Upasna. All rights reserved. Origin IT Solution