मध्यप्रदेशमें हिन्दू देवीपर अभद्र टिप्पणी करनेपर निधर्मी प्राचार्यको कारावासमें डाला गया !


जून १, २०१९

मध्यप्रदेशके दतियामें अभद्र धार्मिक टिप्पणी करनेपर महाविद्यालयके प्राचार्यको कारावास भेज दिया गया । पुलिसने बताया कि प्राचार्यपर आरोप है कि उसने देवी सरस्वतीके बारेमें अभद्र धार्मिक टिप्पणी की थी । इसके पश्चात उन्हें बन्दी बनाकर न्यायालयमें प्रस्तुत किया गया था । न्यायालयसे निर्णय आनेके पश्चित प्राचार्यको कारावास भेज दिया गया ।

समाचारके अनुसार, दतिया जनपदके गोविंद महाविद्यालयके प्राचार्य एसएस गौतमने देवी सरस्वतीपर अभद्र टिप्पणी की थी । प्राचार्यद्वारा कही गई बातोंको एक अन्य प्राध्यापक मनोज व्यासने अपने भ्रमणभाष यन्त्रमें रिकॉर्ड कर लिया और उसे सामाजिक प्रसार माध्यमपर (सोशल मीडियापर) प्रसारित किया ।

विवाद बढनेके पश्चात पुलिसने प्राचार्यके विरुद्घ धार्मिक भावनाएं भडकानेका प्रकरण प्रविष्ट किया और प्राचार्यको बन्दी बनाकर शुक्रवारको सेंवढा न्यायालयमें प्रस्तुत किया ।

“अहिन्दुओंकी बात तो जाने देते हैं, यहां धर्महीन हिन्दू ही अपने देवी-देवताओंका अपमान कर रहे हैं । अधर्मियोंको ठीक करनेसे पूर्व निधर्मी हिन्दुओंको ठीक करना होगा । ये हिन्दू धर्मपर कोढकी भांति है ।”- सम्पादक, वैदिक उपासना पीठ

स्रोत : नभाटा



Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

सम्बन्धित लेख


© 2017. Vedic Upasna. All rights reserved. Origin IT Solution