आतंकियोंका गढ बन रहा पश्चिम उत्तरप्रदेश ! १० से अधिक आतंकी संगठन हैं सक्रिय !!


जनवरी ३, २०१९

उत्तरप्रदेश आतंकियोंके गढके रूपमें उभर रहा है ! पश्चिम उत्तरप्रदेशमें आतंकी आश्रय लेकर बडे स्‍तरपर अपनी गतिविधियां कर रहे हैं । यह बात जांच विभागके सूत्रोंसे सामने आई है । इसके अनुसार पश्चिम उत्तरप्रदेशमें १० से अधिक आतंकी संगठन सक्रिय हैं, जिन जनपदोंमें आतंकी संगठन सक्रिय हैं, उनमें सहारनपुर, शामली, अमरोहा, आगरा, मेरठ, मथुरा, मुजफ्फरनगर, मुरादाबाद और हापुड सम्मिलित हैं ।

कहा जा रहा है कि इन आतंकियोंके विरुद्ध जांच कर रही जांच विभागोंने गत १० वर्षोंका ब्यौरा भी देखना आरम्भ कर दिया है । गत दस वर्षोंमें अमेरिकामें पकडे गए पाकिस्‍तानी आतंकवादी डेविड हेडली, तसव्वुर राणा और अलकायदा आतंकी इलियास कश्मीरी तककी मेरठमें गतिविधियां पाई गईं थी !


जांच विभाग गत दस वर्षोंके ब्यौरेसे जानकारी लेकर जिनकी खोज कर रहे हैं, उनमें मेरठमें सलमान, मुजफ्फरनगरमें हाफिज, शहजाद और इकबाल, आगरामें सालार, मुरादाबादमें मो. हनीफ प्रमुख रूपसे सम्मिलित हैं । जांच विभागके अनुसार पश्चिमी उत्तरप्रदेशमें अलकायदा, लश्कर-ए-तैयबा, हूजी, इस्‍लामिक स्‍टेट, आईएसआईएस, सिमी ।

मेरठ : २६ जनवरी, २०१० को मेरठकी रूबी और पाकिस्तानी असदको रुडकीमें (हरिद्वार) बन्दी बनाया गया था । वह असद नाम परिवर्तितकर रह रहा था और पारपत्र (पासपोर्ट) भी बनवाया । दोनों ‘आइएसआइ’ मध्यस्थ बताए गए थे । ११ जनवरी २०१० को आबूलेनमें ‘आइएसआइ’ मध्यस्थ नासिर बन्दी बनाया गया था ।

सहारनपुर: शाहिद इकबाल भट्टी पटियालामें पकडा गया था । सहारनपुरमें उसने जन्म प्रमाण पत्र, ‘ड्राइविंग लाइसेंस’ बनवा लिया था । दो कश्मीरी छात्र पकडे, जो चार माह पूर्व ही मेरठ कारावाससे दण्ड पूर्ण होनेके पश्चात छूट गए ।

 

“आतंकका धर्म नहीं होता’ नामक कहावतको आगे बढाते हुए धर्मनिरपेक्ष हिन्दू क्या इन्हें भी भटके हुए कहेंगें ?”- सम्पादक, वैदिक उपासना पीठ

 

स्रोत : अमर उजाला

 



Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

सम्बन्धित लेख


सूचना: समाचार / आलेखमें उद्धृत स्रोत यूआरऍल केवल समाचार / लेख प्रकाशित होनेकी तारीखपर वैध हो सकता है। उनमेंसे ज्यादातर एक दिनसे कुछ महीने पश्चात अमान्य हो सकते हैं जब कोई URL काम करनेमें विफल रहता है, तो आप स्रोत वेबसाइटके शीर्ष स्तरपर जा सकते हैं और समाचार / लेखकी खोज कर सकते हैं।

अस्वीकरण: प्रकाशित समाचार / लेख विभिन्न स्रोतोंसे एकत्र किए जाते हैं और समाचार / आलेखकी जिम्मेदारी स्रोतपर ही निर्भर होते हैं। वैदिक उपासना पीठ या इसकी वेबसाइट किसी भी तरहसे जुड़ी नहीं है और न ही यहां प्रस्तुत समाचार / लेख सामग्रीके लिए जिम्मेदार है। इस लेखमें व्यक्त राय लेखक लेखकोंकी राय है लेखकद्वारा दी गई सूचना, तथ्यों या राय, वैदिक उपासना पीठके विचारोंको प्रतिबिंबित नहीं करती है, इसके लिए वैदिक उपासना पीठ जिम्मेदार या उत्तरदायी नहीं है। लेखक इस लेखमें किसी भी जानकारीकी सटीकता, पूर्णता, उपयुक्तता और वैधताके लिए उत्तरदायी है।

विडियो

© 2017. Vedic Upasna. All rights reserved. Origin IT Solution