घुसपैठके प्रयासमें जैशके २४ आतंकी, भारतीय जवान होंगे लक्ष्यपर !


नवम्बर २१, २०१८

अंतर्राष्ट्रीय सीमा और नियन्त्रण रेखा पार पाकिस्तानी सीमामें लश्कर, जैश और हिजबुल मुजाहिदीनके लगभग २४ आतंकी स्नाइपर आक्रमण करनेके लिए पाक अधिकृत कश्मीरके भिन्न-भिन्न स्थानोंपर तैयार बैठे हैं । इनके लिए कवर फायरिंग, वेशभूषा, सभी सामानकी व्यवस्था पाक विभागोंने की है ।

नवम्बरके अन्त तक घुसपैठ करके भारतीय सैनिकोंको सीधा लक्ष्य बनानेकी रणनीतिसे भारतीय सुरक्षा विभाग चौकन्ना है । विभिन्न गुप्तचर विभाग, सीमा सुरक्षा बल व अन्य सुरक्षा बलोंके साथ पाक सेना व आईएसआईकी आतंकियोंके साथ बनाई योजनाको साझा करते हुए सतर्कताका निर्देश दिया गया है ।

विवरणके मुताबिक, हिजबुल मुजाहिदीनके पांच स्नाइपर पाक अधिकृत कश्मीरके दुधनियालमें लॉन्चिंग पैडपर उपस्थित हैं । कलसियान और रुमलीधारामें लश्करके पांच स्नाइपर गाइड सरदार गुजरके साथ लांच पैडपर हैं, छह लश्कर आतंकियोंका एक भिन्न समूह गाइड अरशद खानकी अध्यक्षतामें जो पीओकेके बट्टल गांवमें शिविर कर रहा है और सात-आठ जैश आतंकियोंका समूह पीओकेके नट्टर गांवमें रुका हुआ है ।

एनआईएने जम्मू कश्मीरके नगरोटामें सेनाके एक शिविरपर नवम्बर २०१६ में हुए आक्रमणके प्रकरणमें आतंकी संगठन ‘जैश ए मोहम्मद’के उप प्रमुख एवं मौलाना मसूद अजहरके भाई मौलाना अब्दुल रोउफ असगर तथा १३ अन्यके विरुद्घ मंगलवारको एक आरोपपत्र प्रविष्ट किया ।

भारतीय विभागोंने आशंका प्रकट की है कि यह सभी आतंकी स्नाइपर आक्रमणमें प्रशिक्षित हैं । बैट दलके षडयन्त्रमें भी इन्हें सम्मिलित किया गया है । विभागके विवरणमें दावा किया है कि भिन्न-भिन्न लॉन्चिंग पैडपर उपस्थित आतंकियोंके दलको स्नाइपर आक्रमण, सीमा कार्यकारी दलके षडयन्त्र और आईईडी बिछानेके षडयन्त्रमें सम्मिलित किया जा सकता है ।

सूत्रोंने कहा, गत कुछ माहमें स्नाइपर आक्रमणमें तेजी आई है । पाककी ओरसे आतंकियोंकी जो खेप भेजनेका प्रयास हो रहा है, उनका लक्ष्य सुरक्षा बलोंके सैनिक हैं !

स्रोत : लाइव हिन्दुस्तान



Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

सम्बन्धित लेख


सूचना: समाचार / आलेखमें उद्धृत स्रोत यूआरऍल केवल समाचार / लेख प्रकाशित होनेकी तारीखपर वैध हो सकता है। उनमेंसे ज्यादातर एक दिनसे कुछ महीने पश्चात अमान्य हो सकते हैं जब कोई URL काम करनेमें विफल रहता है, तो आप स्रोत वेबसाइटके शीर्ष स्तरपर जा सकते हैं और समाचार / लेखकी खोज कर सकते हैं।

अस्वीकरण: प्रकाशित समाचार / लेख विभिन्न स्रोतोंसे एकत्र किए जाते हैं और समाचार / आलेखकी जिम्मेदारी स्रोतपर ही निर्भर होते हैं। वैदिक उपासना पीठ या इसकी वेबसाइट किसी भी तरहसे जुड़ी नहीं है और न ही यहां प्रस्तुत समाचार / लेख सामग्रीके लिए जिम्मेदार है। इस लेखमें व्यक्त राय लेखक लेखकोंकी राय है लेखकद्वारा दी गई सूचना, तथ्यों या राय, वैदिक उपासना पीठके विचारोंको प्रतिबिंबित नहीं करती है, इसके लिए वैदिक उपासना पीठ जिम्मेदार या उत्तरदायी नहीं है। लेखक इस लेखमें किसी भी जानकारीकी सटीकता, पूर्णता, उपयुक्तता और वैधताके लिए उत्तरदायी है।

विडियो

© 2017. Vedic Upasna. All rights reserved. Origin IT Solution