आजकी युवा पीढीको ज्ञात नहीं वैदिक रीतिसे विवाह करनेका महत्त्व !


धर्मशिक्षणके अभावके कारण आजकी युवा पीढीके कृत्य विचित्र होते हैं ! प्राप्त समाचार अनुसार एक हिन्दू युवा युगलने विवाह हेतु संविधानका शपथ लिया है ! वैदिक रीतिसे विवाहके महत्त्वको विदेश समझकर उसे करने हेतु भारत आते रहते हैं, वहीं निधर्मी शिक्षण पद्धतिसे शिक्षित युवा इसका महत्त्व नहीं समझ पाते हैं ! वैदिक अनुष्ठानके माध्यमसे सम्पन्न होनेवाले विवाहरुपी यज्ञसे पति-पत्नीमें आध्यात्मिक एकरूपता बढती है जिससे उनका वैवाहिक जीवन सुखमय होकर वे अध्यात्मकी और प्रवृत्त होते हैं | क्या निधर्मी संविधानके शपथ लेकर विवाह करनेसे ऐसा संभव होगा ?


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

सम्बन्धित लेख


© 2017. Vedic Upasna. All rights reserved. Origin IT Solution