अहिन्दू पन्थोंका पतन निश्चित


धीरे-धीरे अहिन्दू पन्थोंके कुकर्म सभीको ज्ञात होने लगे हैं ! विदेशोंमें तो पादरियों और गिरिजाघरके कुकर्मोंके कारण अब वहां लोग निधर्मी बन रहे हैं । मुसलमान महिलाएं अब भारतमें ही नहीं, इरानमें भी इस्लामके विरुद्ध अपने विरोधसे स्वर मुखरित करने लगी हैं, जबकि उन्हें ज्ञात है कि इसके परिणाम भयंकर हो सकते हैं ! किन्तु जब अत्याचार अपनी सर्व सीमाएं तोड चुका होता है तो अत्याचार सहन करनेवाला मृत्युको हथेलीपर रखकर विद्रोह करने लगता है ।



Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

सम्बन्धित लेख


© 2017. Vedic Upasna. All rights reserved. Origin IT Solution