एक और बैंक दिवालिया हो गया !


एक और बैंक दिवालिया हो गया ! हिन्दू राष्ट्र आते-आते अर्थव्यवस्थाकी स्थिति अत्यंत दयनीय हो जाएगी ! धनके मोहसे ग्रस्त बहुतसे लोग ऐसी स्थितिमें घोर निराशामें डूब जायेंगे कुछ तो हृदयाघातसे कालकलवित हो जायेंगे तो कुछ आत्महत्या कर लेंगे ! निजी बैंक पहले दिवालिया होंगे एवं तत्पश्चात शासकीय बैंक भी डूब जायेंगे ! इसलिए कागदी धनके स्थानपर अमूल्य साधनाका संग्रह करें !



Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

सम्बन्धित लेख


© 2017. Vedic Upasna. All rights reserved. Origin IT Solution