हिन्दू बहुल राष्ट्रकी विडम्बना


कुछ माह पूर्व मैं दुबई गई थी, वहां विमानतलपर (हवाई अड्डेपर) उतरते ही ‘अजान’ने मेरा स्वागत किया ! जब विगत वर्ष बैंकॉकके विमानतलपर थी तो भगवान विष्णु एवं समुद्र मन्थनका लुभावना दृश्य दिखाई दिया । मात्र जब भारत देश, जहां ९५ करोडसे अधिक हिन्दू रहते हैं, वहां हिन्दू धर्म सम्बन्धी कुछ भी दृश्य दिखाई नहीं देता और दिखाई भी क्यों देगा ? हम धर्मनिरपेक्ष जो हैं और यहां धर्मनिरपेक्षताका अर्थ है, हिन्दू धर्म, संस्कृति, सभ्यता, गौ (देशी गाय), गंगा, वेद, संस्कृत, समस्त देवी-देवता‚ वैदिक धर्मग्रन्थ और सन्तोंकी विडम्बनाकर उसका जड सहित नाश करना ! – तनुजा ठाकुर  (४.४.२०१३)



Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

सम्बन्धित लेख


विडियो

© 2017. Vedic Upasna. All rights reserved. Origin IT Solution