दिनेश भारतीने कहा, हिन्दुओंके पांच बच्चे होने चाहिए और सबके हाथोंमें शस्त्र हों !


दिसम्बर १७, २०१८

जम्मूके महन्त दिनेश भारतीने कहा है कि यदि हिन्दुओंको अपना अस्तित्व बचाना है तो उन्हें पांच-पांच बच्चे पैदा करने होंगे और सभीके हाथोंमें अस्त्र-शस्त्र देने होंगे । उन्होंने कहा कि यह इसलिए होना चाहिए कि यदि उनपर कोई अनुचित दृष्टि डालता है तो वे उसकी आंखें निकाल सकें । जम्मूमें विश्व हिन्दू परिषद्की एक सभाको सम्बोधित करते हुए भारतीने यह वक्तव्य दिया ।

कार्यक्रममें अखिल भारतीय सन्त समाजके स्वामी जगदगुरू हंसदेवाचार्य जी मुख्य अतिथि थे, जबकि भारतीय जनता पार्टीके प्रधान रविन्द्र रैना, पूर्व मुत्री सत शर्मा, शाम चौधरी और चन्द्र प्रकाश गंगा भी कार्यक्रममें थे । दिनेश भारती वर्ष २००८ में उस समय चर्चामें आए थे जब जम्मूमें अमरनाथ भूमि विवादका बल था । भारतीने अपने सम्बोधनमें कहा कि वर्ष २०२९ में कोई भी हिन्दू प्रधानमन्त्री नहीं बनेगा ।

“१०० भेडोंके झुण्डपर एक सिंह काफी होता है ! अतः जो हैं उन्हें ही धर्मपालन सिखाएं व धर्मभिमानी बनाएं ! संख्या बढानेसे राष्ट्रकी केवल समस्याएं ही बढेगीं ! संसाधन हमारे पास सीमित ही हैं, यह ध्यान रहे ! शासक वर्ग विधान पारित कर बांग्लादेशी आतंकी, रोहिंग्याओंको बाहर करें, कुकुरमुत्तेकी भांति विस्तरित हो रही धर्मान्धोंकी जनसंख्यापर नियन्त्रण करे, एक समान विधान सभीके लिए लागू करें, यही उचित समाधान है ।”- सम्पादक, वैदिक उपासना पीठ

 

स्रोत : पंजाब केसरी



Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

सम्बन्धित लेख


विडियो

© 2017. Vedic Upasna. All rights reserved. Origin IT Solution