सनातनकी ओर झुकाव, अमेरिकामें इसाई कट्टरपंथियोंने हिन्दू मन्दिरपर किया था आक्रमण, नगरके सभी लोगोंंने मिलकर की स्वच्छता !


जनवरी ५, २०१९

 

अमेरिका और यूरोपमें वहांके लोग हिन्दू धर्मकी ओर आकर्षित होते जा रहे हैं । अमेरिका, यूरोप, ऑस्ट्रेलियामें हिन्दू धर्मका प्रभाव बढ रहा है और इसी कारण वहांके इसाई कट्टरपन्थी उद्विग्न हो रहे हैं ! इसी उद्विग्नतामें अमेरिकाके लुइसविलके स्वामीनारायण मन्दिरपर इसाई कट्टरपन्थियोंने आक्रमण किया था, मन्दिरमें देवी देवताओंकी प्रतिमाओं, सामानके साथ तोडफोड की थी, साथ ही काले रंगसे भित्तपर जीजस ही भगवान है’ और अन्य सन्देश लिखे थे । हिन्दू देवी देवताओंके चित्रोंपर भी काला रंग किया था ।

इस प्रकरणमें पुलिसने १७ वर्षीय १ कट्टरपन्थीको बन्दी बनाया है और शेषकी खोज जारी है; परन्तु इस घटनाके पश्चात वहांके हिन्दू और अधिक एकत्र हो गए और अब तो पुरे लुइसविल नगरके लोग इस मन्दिरमें आने लगे हैं । वहांके गवर्नर और विपक्षी दलके नेता भी लोगोकी भीडको देखते हुए यहां पहुंच रहे हैं ।

लोगोने वहांके हिन्दुओंका समर्थन किया और मन्दिरमें घृणाके विरुद्घ लोगोने प्रण भी लिया ।
लोगोने मन्दिरको स्वच्छ किया, काले रंगको भित्त और चित्रोंसे सावधानीसे स्वच्छ किया गया और मन्दिरको पहलेकी भांति किया गया । इसके साथ मन्दिरमें पूजा और आरती भी सभी लोगोंने की !

 

“यह सनातनकी विशेषता है कि न ही किसी अवैध धनकी आवश्यकता है, न ही छलकी, न ही बलकी । आत्माको शान्ति चाहिए होती हैं, जो सभीको यहां मिलती है; अतः सभी स्वतः ही आकर्षित करते हैं और शेष कार्य कट्टरपन्थी स्वतः ही पूर्ण कर देते हैं कि सभी लोग पुनः दोगुणा बलसे एकत्रित हो जाते हैं ! अमेरिकाका स्वामीनारायण मन्दिर और भारतका राम मन्दिर और सबरीमाला मन्दिर इसके उदाहरण हैं । ”- सम्पादक, वैदिक उपासना पीठ

 

स्रोत : दैनिक भारत



Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

सम्बन्धित लेख


© 2017. Vedic Upasna. All rights reserved. Origin IT Solution