इस्लाम त्यागनेको इच्छुक है असलम; पर मारते हैं मुसलमान, भगवा गमछा ओढकर पहुंचा ‘पुलिस थाने’ 


०९ दिसम्बर, २०२१
            उत्तरप्रदेशके कानपुरमें एक असलम नामक युवक भगवा गमछा ओढकर ‘थाने’ पहुंचा । उसने ‘पुलिस’को बताया कि उसे मोहम्मद अली नामक व्यक्तिने पीट-पीटकर रक्तरंजित कर दिया है; क्योंकि वह अब जिहादी जीवन जीनेका इच्छुक नहीं; वरन वह अब हिन्दू धर्म स्वीकारनेका इच्छुक है । उसका दृश्यपट सार्वजनिक है, जिसमें उसके वस्त्रोंपर रक्त देखा जा सकता है ।
            वह ‘छोटे मियांका हाता’ क्षेत्रका निवासी है । इस क्षेत्रको वह ‘बदनाम क्षेत्र’ कहता है । उसने कहा कि उसे यदि इन लोगोंने धर्मान्तरण नहीं करने दिया, तो वह दूर भाग जाएगा; परन्तु जिहादी जीवन नहीं जीयेगा ।
           प्रत्येक मानवीय विचारधारा युक्त मानवका हिन्दूधर्ममें स्वागत है । अनेक मुसलमान, जो इस्लामकी कुरीतियोंसे व हिन्दू धर्मकी सत्यतासे परिचित हैं, वे धर्मान्तरणको अग्रसर हैं । कट्टरपन्थी मुसलमान ऐसे लोगोंकी हत्यातक करनेसे नहीं चूकते । ऐसे लोगोंको सुरक्षा प्रदान की जानी चाहिए, जिससे ये लोग शान्तिपूर्ण जीवन जी सकें । – सम्पादक, वैदिक उपाासना पीठ
 
 
स्रोत : ऑप इंडिया


Leave a Reply

Your email address will not be published.

सम्बन्धित लेख


सूचना: समाचार / आलेखमें उद्धृत स्रोत यूआरऍल केवल समाचार / लेख प्रकाशित होनेकी तारीखपर वैध हो सकता है। उनमेंसे ज्यादातर एक दिनसे कुछ महीने पश्चात अमान्य हो सकते हैं जब कोई URL काम करनेमें विफल रहता है, तो आप स्रोत वेबसाइटके शीर्ष स्तरपर जा सकते हैं और समाचार / लेखकी खोज कर सकते हैं।

अस्वीकरण: प्रकाशित समाचार / लेख विभिन्न स्रोतोंसे एकत्र किए जाते हैं और समाचार / आलेखकी जिम्मेदारी स्रोतपर ही निर्भर होते हैं। वैदिक उपासना पीठ या इसकी वेबसाइट किसी भी तरहसे जुड़ी नहीं है और न ही यहां प्रस्तुत समाचार / लेख सामग्रीके लिए जिम्मेदार है। इस लेखमें व्यक्त राय लेखक लेखकोंकी राय है लेखकद्वारा दी गई सूचना, तथ्यों या राय, वैदिक उपासना पीठके विचारोंको प्रतिबिंबित नहीं करती है, इसके लिए वैदिक उपासना पीठ जिम्मेदार या उत्तरदायी नहीं है। लेखक इस लेखमें किसी भी जानकारीकी सटीकता, पूर्णता, उपयुक्तता और वैधताके लिए उत्तरदायी है।

विडियो

© 2021. Vedic Upasna. All rights reserved. Origin IT Solution