इस्लामिक गुरुका बुद्धिहीन धर्मनिरपेक्षोंको प्रखर उत्तर, कश्मीर एक हिन्दू भूमि है, यह इस्लामके जन्मसे पहलेसे ही है !!


फरवरी २०, २०१९


कश्मीर पाकिस्तानकी भांति कोई ७० वर्ष पूर्व बनी आकृति नहीं है, यह सहस्रों वर्षोंसे विद्यमान है, और इस्लाम जब इस धरतीपर था भी नहीं, तभी भी कश्मीर था । इमाम ताव्हिदी एक इस्लामिक मजहब गुरु है तो खुलकर कहते है कि कश्मीर इस्लामिक भूमि नहीं, वरन एक हिन्दू भूमि है !!

इमाम ताव्हिदीका विडियो सामने आया है, जिसमे वो ये भी कहते दिख रहे हैं कि पाकिस्तानको तो कश्मीरपर बोलनेका अधिकार भी नहीं है ! इमामका कहना है कि कश्मीर तो इस्लामके पहलेसे है और ये एक हिन्दू भूमि है, भले ही आज कश्मीरसे हिन्दुओंको भगा दिया गया; परन्तु वास्तवमें कश्मीर हिन्दू भूमि ही है !

 

आपकी जानकारीके लिए बता दें कि कश्मीरका १००% मुस्लमान धर्मान्तरित है, फारुख अब्दुल्ला, महबूबा मुफ्ती, सबके सब धर्मान्तरित है, कश्मीर मूल रूपसे महान ऋषि कश्यपद्वारा बसाई गई थी, और ये सहस्रों वर्षोंसे हिन्दू भूमि ही रही है, जो आज धर्मनिरपेक्षताके चलते हिन्दुओंसे विहीन हो चुकी है और आतंकवादका अड्डा बन चुकी है ।

 

“इससे बोध होता है कि धर्मान्तरण, जो आज भारतके प्रत्येक कोनेमें हो रहा है, एक भयावह रोग है, जो हिन्दुओंका अस्तित्व समाप्त कर सकता है !  जो बात एक विवेकशील मुस्लिम धर्मगुरुको समझ आती है, वह इस्लामिक विषधरों और बुद्धिहीन धर्मनिरपेक्षोंको समझ नहीं आती है ! भाई-भाईका राग आलापते-२ समूचा हिन्दुस्तान ही लुटवा दिया है और इसका दण्ड सभी हिन्दू भोग रहे हैं; अतः अब शुद्धिकरण आवश्यक है और सर्वप्रथम हिन्दूके वेशमें घूम रहे अहिन्दुओंका अत्यावश्यक है !”- सम्पादक, वैदिक उपासना पीठ

 

 

स्रोत : दैनिक भारत

 



Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

सम्बन्धित लेख


विडियो

© 2017. Vedic Upasna. All rights reserved. Origin IT Solution