कठोर दंड न देनेके कारण आज धर्मांध सम्पूर्ण भारतमें कुकृत्य कर रहे हैं !


जैसे कश्मीरमें पथराव करनेवालोंको कठोर दंड न देनेके कारण आज सर्वत्र धर्मान्ध भिन्न अवसरोंपर पथराव करते दिखाई देते हैं वैसे ही एक स्थानपर जांच हेतु गए चिकित्सकोंपर मार-पीट करनेपर उन्हें कठोर दंड न देनेके कारण, आज धर्मांध सम्पूर्ण भारतमें ऐसे कुकृत्य करते दिखाई देते हैं ! यह सब शासन और प्रशासक वर्गकी निष्क्रियता एवं पापाचारी व्यक्तिको दंड न देनेका ही परिणाम है ! आजके राज्यकर्ताओंके निर्णय अदूरदर्शी एवं तुष्टिकरणपर आधारित होते हैं; किन्तु दुःखकी बात यह है कि इसका दंड वे नहीं कोई और भोगते हैं जैसे आज निरपराध सुरक्षाकर्मी एवं चिकित्सावर्गके लोग आज  भोग रहे हैं !
          यदि कश्मीरमें अपने प्राणोंको मुट्ठीमें रखकर देशकी रक्षा करनेवाले हमारे सैनिक बंधुओंपर पथराव करनेवालोंके हाथ काट दिए जाते तो आज क्या कहीं भी ऐसी घटनाकी पुनरावृत्ति होती ! वैसे ही जहां भी कोरोना संक्रमण हेतु जांच करने गए चिकित्सकपर मार-पीट करनेवालोंको चौकपर खडे कर गोली मार दिया जाता तो आज पुनः ऐसा घटना होती ! जी हां,मैं ऐसे नरपिशाचोंको कारागारमें भेजकर देशका अमूल्य धन एवं अन्न, उनपर व्यय करनेकी पक्षधर नहीं हूं, ये तो पृथ्वीके भू-भार हैं, इनका न रहना ही  शांतिका एकमात्र उपाय है !  जिनमें मानवता नहीं उनके प्रति मानवता दर्शाकर अन्य लोग जो समाज हित एवं राष्ट्र हित हेतु अपने प्राण दांवपर लगाकर रात-दिन सेवा दे रहे हैं, उनके  जीवनके साथ खिलवाड करनेवालोंके प्रति दया करना मूढता है, यह आजके सत्ता लोभी नेताओंको क्यों नहीं समझमें आता है ! ऐसा न हो इसलिए निधर्मी शासनके स्थानपर दुष्टोंको कठोर दंड देनेवाला हिन्दू राष्ट्र चाहिए !


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

सम्बन्धित लेख


विडियो

नियमित स्तम्भोंसे सम्बन्धित लेख

© 2021. Vedic Upasna. All rights reserved. Origin IT Solution