‘३५-ए’के लिए हर बलिदान देनेको सज्ज हैं : महबूबा मुफ्ती


सितम्बर १०, २०१८

पीडीपी प्रमुख व पूर्व मुख्यमन्त्री महबूबा मुफ्तीने कहा है कि उनका दल राज्यके विशेष दर्जे से सम्बन्धित ‘अनुच्छेद ३५-ए’को, जिसे न्यायालयमें चुनौती दी गई है, बचानेके लिए बलिदान देनेको तैयार है ! गांदरबलके कंगनमें आयोजित एक कार्यक्रमके पश्चिमदिशा विवरणसे उन्होंने कहा कि उनका जब शासन थी तो उन्होंने देशके उच्च अधिवक्ताओंको ‘अनुच्छेद ३५-ए’को बचानेके लिए लगाया था । भविष्यमें भी जो कुछ सम्भव होगा, वह स्वयं व उनका दल करेगा । उन्होंने कहा कि शान्तिके लिए भारतको पाकिस्तानको मित्रताका सकारात्मक उत्तर देना चाहिए । मुफ्ती सदैव कहते थे कि वे मुख्यमन्त्री बननेके इच्छुक नहीं हैं, बल्कि यहांकी जनताको वर्तमान परिस्थितियों से बाहर निकलना होगा ।

इसके लिए वाजपेयी जीके कार्यकालमें सबसे प्रथम प्रयास हुए, फिर मोदीजीके कार्यकालमें भाजपा शके साथ गठबन्धन किया गया । प्रयास किया गया कि पाकिस्तानके साथ सम्बन्ध अच्छे हों । उन्होंने कहा कि दिल्लीको भी चाहिए कि वाजपेयीकी राहपर चलकर पाकिस्तानके साथ दोस्तीका हाथ बढाए । साथ ही यहां भी बातचीतका प्रकरण आरम्भ हो ।

महबूबा मुफ्तीने कहा कि निकाय व पंचायत मतदानपर बात चल रही है । उनके शासनने भी सर्वदलीय बैठक बुलाई थी, तब सर्वसम्मति बनी थी कि स्थिति मतदान योग्य नहीं हैं । सभीको सुरक्षा दे पाना सम्भव नहीं होगा । आशा है कि राज्यपाल भी सर्वदलीय बैठक बुलाकर चर्चा करेंगे और तब निर्णय करेंगे; लेकिन समस्या यह है कि ‘३५-ए’को मिला दिया गया । न्यायालयमें कहा गया कि ‘३५-ए’पर सुनवाई टाल दी जाए; क्योंकि पंचायत मतदान होने हैं । इससे समस्या और विकट हो गई और लोगोंमें शंका पैदा हुई ।

स्रोत : अमर उजाला



Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

सम्बन्धित लेख


सूचना: समाचार / आलेखमें उद्धृत स्रोत यूआरऍल केवल समाचार / लेख प्रकाशित होनेकी तारीखपर वैध हो सकता है। उनमेंसे ज्यादातर एक दिनसे कुछ महीने पश्चात अमान्य हो सकते हैं जब कोई URL काम करनेमें विफल रहता है, तो आप स्रोत वेबसाइटके शीर्ष स्तरपर जा सकते हैं और समाचार / लेखकी खोज कर सकते हैं।

अस्वीकरण: प्रकाशित समाचार / लेख विभिन्न स्रोतोंसे एकत्र किए जाते हैं और समाचार / आलेखकी जिम्मेदारी स्रोतपर ही निर्भर होते हैं। वैदिक उपासना पीठ या इसकी वेबसाइट किसी भी तरहसे जुड़ी नहीं है और न ही यहां प्रस्तुत समाचार / लेख सामग्रीके लिए जिम्मेदार है। इस लेखमें व्यक्त राय लेखक लेखकोंकी राय है लेखकद्वारा दी गई सूचना, तथ्यों या राय, वैदिक उपासना पीठके विचारोंको प्रतिबिंबित नहीं करती है, इसके लिए वैदिक उपासना पीठ जिम्मेदार या उत्तरदायी नहीं है। लेखक इस लेखमें किसी भी जानकारीकी सटीकता, पूर्णता, उपयुक्तता और वैधताके लिए उत्तरदायी है।

विडियो

© 2017. Vedic Upasna. All rights reserved. Origin IT Solution