नवरात्रि में कोनसा जप करें!


आजसे नवरात्र आरम्भ हुआ है, इस कालमें मां दुर्गाका तत्त्व अधिक कार्यरत रहता है; इसलिए सभी अधिकाधिक ‘श्री दुर्गा देव्यै नमः’ का जप करें । जिनके गुरु हैं और वे अपने गुरु या गुरुकार्य निमित्त नियमित सेवा तन,मन, धनसे सेवा करते हैं तो वे  गुरुमंत्रका ही जप करें । गुरुमंत्रकी विशेषता होती है कि वे साधक या शिष्यके पिण्डमें आवश्यक तत्त्वको आकृष्ट कर उसकी प्रगति कराती है । सेवा करनेवाले साधकोंके लिए गुरुमंत्र मल्टीविटामिन है ।



Leave a Reply

Your email address will not be published.

सम्बन्धित लेख


© 2021. Vedic Upasna. All rights reserved. Origin IT Solution