घरसे परीक्षा देने निकली लडकी, अपहरणकर ‘मस्जिद’ ले गया साबिर मिर्जा, बलात धर्मान्तरणके पश्चात ‘निकाह’


७ अप्रैल, २०२२
      उत्तर प्रदेशके फतेहपुर जनपदसे एक हिन्दू लडकीका अपहरणकर उसका धर्मान्तरणकर ‘निकाह’ किए जानेका समाचार है । विवरणोंके अनुसार, आरोपित साबिर मिर्जा लडकीका अपहरणकर बांदाकी एक ‘मस्जिद’में ले गया । वहां धर्म परिवर्तन करवाकर उससे ‘निकाह’ किया ।
      पीडिता ३१ मार्च २०२२ को घरसे परीक्षा देनेके लिए निकली थी । जब वह घर नहीं लौटी तो उसके पिताने ‘पुलिस’में परिवाद प्रविष्ट करवाया । जाफरगंजके ‘डीएसपी’ने बताया, “थाना गाजीपुरमें एक व्यक्तिने अपनी बेटीको किसीके द्वारा ‘बहला-फुसला’कर ले जानेका परिवाद प्रविष्ट करवाया था । इस सम्बन्धमें ‘थाने’पर प्राथमिकी प्रविष्ट की गई और पीडिताको खोज लिया गया है और उसने बताया कि उसका धर्म परिवर्तन करवानेका प्रयास किया जा रहा था । साथ ही उसको धमकी भी दी जा रही थी । इस सम्बन्धमें २४ वर्षीय साबिर मिर्जाको बन्दी बनाकर कारागृह भेज दिया गया है । आगेकी जांच चल रही है ।”
      ‘मीडिया’ विवरणके अनुसार, आरोपित साबिर मिर्जा पीडिताको पडोसी जनपद बांदाकी किसी ‘मस्जिद’में ले गया था । इस मध्य एक ‘मौलवी’ने पीडिताका ‘निकाह’ और धर्मान्तरण करवाया । आरोपित मिर्जापर ‘आईपीसी’की धारा ३६६, ३८६, ४२०, ५०६ व ३/५ उत्तर प्रदेश विधि विरुद्ध धर्म संपरिवर्तन प्रतिषेध विधेयक २०२१ के अन्तर्गत अभियोग प्रविष्ट किया गया है । इस घटनासे जुडे अन्य सन्दिग्धोंकी भूमिकाकी जांच हो रही है ।
     उत्तर प्रदेश जैसे राज्यमें, जहां लव जिहादके विरुद्ध कठोर विधान है, वहां भी इन जिहादियोंका दुस्साहस इतना है तो अन्य राज्योंकी स्थितिकी कल्पना की जा सकती है । शासन हिन्दुओंके, अन्य धर्मियोंसे विवाहको पूर्णतः अवैध घोषित करे और इसे कठोर दण्डनीय अपराध घोषित करे ! – सम्पादक, वैदिक उपाासना पीठ
 
 
स्रोत : ऑप इंडिया


Leave a Reply

Your email address will not be published.

सम्बन्धित लेख


सूचना: समाचार / आलेखमें उद्धृत स्रोत यूआरऍल केवल समाचार / लेख प्रकाशित होनेकी तारीखपर वैध हो सकता है। उनमेंसे ज्यादातर एक दिनसे कुछ महीने पश्चात अमान्य हो सकते हैं जब कोई URL काम करनेमें विफल रहता है, तो आप स्रोत वेबसाइटके शीर्ष स्तरपर जा सकते हैं और समाचार / लेखकी खोज कर सकते हैं।

अस्वीकरण: प्रकाशित समाचार / लेख विभिन्न स्रोतोंसे एकत्र किए जाते हैं और समाचार / आलेखकी जिम्मेदारी स्रोतपर ही निर्भर होते हैं। वैदिक उपासना पीठ या इसकी वेबसाइट किसी भी तरहसे जुड़ी नहीं है और न ही यहां प्रस्तुत समाचार / लेख सामग्रीके लिए जिम्मेदार है। इस लेखमें व्यक्त राय लेखक लेखकोंकी राय है लेखकद्वारा दी गई सूचना, तथ्यों या राय, वैदिक उपासना पीठके विचारोंको प्रतिबिंबित नहीं करती है, इसके लिए वैदिक उपासना पीठ जिम्मेदार या उत्तरदायी नहीं है। लेखक इस लेखमें किसी भी जानकारीकी सटीकता, पूर्णता, उपयुक्तता और वैधताके लिए उत्तरदायी है।

विडियो

© 2021. Vedic Upasna. All rights reserved. Origin IT Solution