समाचारपत्र पढकर अपने दिवसका शुभारम्भ न करें ! 


साम्प्रतकालमें समाचारपत्रोंमें अधिकतर तमोगुणी समाचार जैसे भ्रष्टाचार, लूटपाट, दुर्घटना, चोरी, बलात्कार इत्यादिके ही वृत्त होते हैं, इसे प्रातःकालके समय पढनेसे हमारी सूक्ष्म देह अर्थात मन एवं बुद्धिपर काला आवरण आ जाता है और सम्पूर्ण दिवस, यह अनावश्यक आवरण हमारी बौद्धिक एवं मानसिक क्षमताको घटा देता है और मनको अशान्त रखता है; इसीलिए दिवसका शुभारम्भ कुछ सन्तोंके गाये भजन या उनके लिखे ग्रन्थको पढकर करें या संस्कृतके स्तोत्र पठन अथवा ध्यान, नामजप इत्यादिसे करें ! इससे आपके सत्त्वगुणमें वृद्धि होगी और यह आपके चित्तको सम्पूर्ण दिवस शान्त एवं प्रसन्नचित्त रखेगा ।


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

सम्बन्धित लेख


विडियो

© 2017. Vedic Upasna. All rights reserved. Origin IT Solution