सत्सेवाके कारण एक बडी दुर्घटना टली


दिनांक १७.१०.२०१९ को मैं रात्रिमें अपने घरपर सोया हुआ था कि अकस्मात छतका जो भाग मेरे बिछावनके ऊपर था उसका ‘प्लास्टर’ गिर गया । ईश्वरीय कृपासे मैं बाएं करवट सोया था; इसलिए उससे मेरे शरीरके थोडे ही भागको चोट लगी । पांच दिवस पूर्व मेरी पत्नीके पांवकी अस्थि भंग हो (हड्डी टूट) गई थी; इसलिए वह और हमारा छह वर्षीय सुपुत्र मेरे ससुरालमें था अन्यथा अनर्थ भी हो सकता था । भगवानजीकी कृपासे मुझे भी जिस प्रकारकी चोट इतनी बडी दुर्घटनामें लगनी चाहिए थी, वह नहीं लगी थी । मात्र मेरे होठोंके पास मुझे अधिक चोट लगी थी और शरीरपर ‘प्लास्टर’ गिरनेसे दो-तीन दिन बहुत वेदना रही; किन्तु और कुछ भी नहीं हुआ । मैं पिछले चार माहसे मासिककी संरचनाकी सेवा करता हूं और मुझे लगता यह जीवन दान मुझे इसलिए गुरुकृपासे मिला । मैं इसके लिए ईश्वर एवं पूज्या तनुजा मांके प्रति अपनी कृतज्ञता व्यक्त करता हूं । – सुशील कुमार प्रजापति, इन्दौर, मध्य प्रदेश



Leave a Reply

Your email address will not be published.

सम्बन्धित लेख


विडियो

© 2021. Vedic Upasna. All rights reserved. Origin IT Solution