मुगलोंद्वारा विकृत श्रीराम पुत्र कुशकी नगरीका होगा नाम परिवर्तित !!


अप्रैल १, २०१९

उत्तर प्रदेशके राज्यपाल राम नाईकने मुख्यमन्त्री योगी आदित्यनाथको सुल्तानपुर जनपदका नाम परिवर्तन करनेके लिए पत्र लिखा है । इस पत्रमें उन्होंने ‘राजपूताना शौर्य फाउंडेशन’की मांगका वर्णन करते हुए मुख्यमन्त्री योगीसे सुल्तानपुर जनपलका नाम परिवर्तितकर कुशभवनपुर करनेकी मांग की है ।

राम नाईकने पत्रमें लिखा, “राजपूताना शौर्य फाउंडेशनके प्रतिनिधि मंडलद्वारा मुझसे भेंटकर एक पुस्तक ‘सुल्तानपुर इतिहासकी झलक’के साथ एक ज्ञापन सौंपा गया । इसमें उन्होंने सुल्तानपुरको ‘हेरिटेज सिटी’में सम्मिलित किए जाने और उसका नाम परिवर्तितकर कुशभवनपुर किए जानेका अनुरोध किया है ।” राम नाईकने योगीसे कहा है कि इस पुस्तकके आधारपर उचित पग उठाया जाए । उन्होंने पत्रके साथ वो पुस्तक भी योगीको भेजी है ।

सुल्तानपुरका नाम परिवर्तनकी मांग नूतन नहीं है । ये मांग कई दिनोंसे उठ रही है । गत दिवसोंमें सुल्तानपुर नगरपालिकामें एक प्रस्ताव भी पास किया गया था । इससे पूर्व सुल्तानपुरके लंभुआसे भाजपा विधायक देवमणिने विधानसभामें जनपदका नाम परिवर्तनका प्रस्ताव रखा था । देवमणिका कहना था कि अयोध्यासे सटे सुल्तानपुरको भगवान रामके पुत्र कुशने बसाया था; इसलिए पौराणिक कथाओंमें इसे कुशभवनपुर नामसे सम्बोधित किया गया था । उन्होंने कहा था, “देवी सीता यहीं ठहरी थीं । उनकी स्मृतिमें आज भी सीताकुंड घाट है । मुगल शासकोंने इसका नाम परिवर्तित कर दिया था !! ऐसेमें इसका पुराना नाम होनेसे जहां गर्व शकी अनुभूति होगी, वहीं नगरका सांस्कृतिक महत्त्व भी बढेगा ।”


“मुगलोंद्वारा न केवल भारतीयोंकी संस्कृति वरन उनके प्रतीकोंको भी नष्ट किया गया था, जिसका उद्देश्य चहुंओर केवल इस्लामको प्रसारित करना था । अब भारतीय उस दासताके प्रतीकोंसे मुक्त होना चाहते हैं, जिसमें नाम सबसे प्रथम आता है; क्योंकि नाम ही सबसे प्रथम पहचान है; अतः इसे परिवर्तन करना आवश्यक है । ” – सम्पादक, वैदिक उपासना पीठ

 

स्रोत : ऑप इण्डिया



Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

सम्बन्धित लेख


विडियो

© 2017. Vedic Upasna. All rights reserved. Origin IT Solution