तुष्टिकरणकी राजनीतिकी घृणित परम्पराका कोरोना महामारी में भी जारी !


चाहे कोई भी पक्ष इस देशकी सत्तामें आ जाए, तुष्टिकरणकी राजनीतिकी घृणित परम्पराका क्रम इस देशमें अविरत चलता है ! हिन्दुओंने रामनवमी, चैत्र नवरात्र, हनुमान जयन्ती जैसे अनके महत्त्वपूर्ण त्योहार, गृह-बंदीका (लॉकडाउन) पालनकर मनाया और अब मुसलमानोंके लिए रमजानका माह आरम्भ होते ही सब दूकाने खुल गयीं, यह जानते हुए भी की इस समुदायद्वारा महामारी हेतु बनाए गए नियमोंका पालन कदापि न होगा और मूढ नेतओ, अपने नेत्र खोलकर देखें, वे कैसे ९५ % जनताके गृह बंदीके प्रयासोंका उपहास कर रहे हैं ! यह तुष्टिकरण, इस देशकी लुटिया डुबो कर रहेगी ! धिक्कार है, ऐसे सत्तालोलुप नेताओंका एवं उसके राजनीतिक पक्षका ! ऐसी सत्तालोलुपताको बढावा देनवाली इस तथाकथित निधर्मी लोकतंत्रका सर्वनाश यथाशीघ्र हो !
    ट्रम्पने आर्थिक हानि न हो और वे चुनाव हार न जाएं; इसलिए अमेरिकाको कोरोनासे संक्रमण हेतु आवश्यक पग नहीं उठाए और उसे नाशकी ओर धकेल दिया ! और हमारे यहां मुसलमानोंके मत हाथसे न निकल जाए इसलिए तेजीसे बढ रहे कोरोना संक्रमणपर भी दूकाने खोल दी गईं और अनेक कोटि लोगोंके त्यागपर पानी फेर दिया  ! छि: ! कितनी निकृष्ट मानसिकता है आजके नेताओंकी !  इसलिए हिन्दू राष्ट्र चाहिए और ध्यान रहे, ऐसे नेताओंद्वारा हिन्दू राष्ट्र कभी नहीं निर्माण हो सकता है; अतः हिन्दू राष्ट्रप्रेमियो, अपने प्रयासमें निरन्तरता बनाये रखें !


Leave a Reply

Your email address will not be published.

सम्बन्धित लेख


विडियो

नियमित स्तम्भोंसे सम्बन्धित लेख

© 2021. Vedic Upasna. All rights reserved. Origin IT Solution