उत्तिष्ठ कौन्तेय – गर्भवती बकरीके साथ वासनान्ध मोहम्मद शिराजने किया दुष्कर्म, बकरीकी मृत्यु !


बिहारमें पटनाके ग्रामीण क्षेत्र परसा बाजारमें मंगलवार, १५ जनवरीकी संध्या एक धर्मांध, मोहम्मद शिराजको नशेमें धुत्त होकर गर्भवती बकरीके साथ दुष्कर्म करनेपर पकडा गया है ! बकरी ३ माहकी गर्भवती थी । महिलाको बकरी मृत मिली थी । महिलाने पुलिसको दी परिवादमें कहा है कि उस व्यक्तिने नशेमें उसकी बकरीके साथ दुष्कर्म किया ।
मोहम्मद शिराजने इसे स्वीकार कर लिया है । यह सम्पूर्ण प्रकरण ‘भादंसं’ (भारतीय दंड संहिता) धारा और वन्यजीव संरक्षण अधिनियम, १९७१ के अन्तर्गत प्रविष्ट किया गया है । परिवादपर कार्यवाही करते हुए पुलिसने उस व्यक्तिको बन्दी बना लिया और बकरीके शवको जांच और अन्य चिकित्सीय परीक्षणके लिए एक पशु चिकित्सा केन्द्र भेज दिया है ।
उल्लेखनीय है कि इससे पूर्व भी हरियाणाके मेवातसे एक बकरीके साथ दुष्कर्मका समाचार आया था । जांचके पश्चात ज्ञात हुआ कि नशेमें धुत्त ८ लोगोंने वीरान क्षेत्रमें बकरीके साथ दुष्कर्म किया था ।
अन्य धर्मोंके मानवको काफिर बताकर धर्मान्ध, उनकी महिलाओंपर बलात्कार तो करते ही आए हैं; किन्तु सामाजिक जालस्थानपर आये दिन इसप्रकारके समाचारसे यह सिद्ध होता है कि मूक पशुओंपर भी ऐसे कृत्य धर्मांध करते आ रहे हैं ! मानव तो मानव, मूक, निरीह पशुओंपर भी दुष्कर्म अविचारणीय एवं असहनीय कृत्य है ! ऐसे वासनान्ध मनुष्य केवल मृत्युदण्डके ही पात्र हो सकते हैं एवं यदि इस्लाम इसकी शिक्षा देता है तो यह धर्म, धर्म तो कभी भी नहीं हो सकता है ! (१९.१.२०१९) – तनुजा ठाकुर


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

सम्बन्धित लेख


© 2017. Vedic Upasna. All rights reserved. Origin IT Solution