वास्तुमें अनिष्ट स्पन्दनका निर्माण होनेका एक कारण है, आधुनिक भोज पद्धति


घरमें मित्रों व परिजनको बुलाकर मांसाहार कराना, मद्य पिलाना, सिक्थवर्तिका (मोमबत्ती) जलाकर देर रात ऊंचे स्वरमें पाश्चात्य संस्कृतिके गाने लगाकर नृत्य करनेसे, घरसे देवताओंका वास्तव्य समाप्त हो जाता है और उस वास्तुमें अनिष्ट शक्तियां वास करने लगती हैं; अतः आधुनिक शैलीमें भोज (पार्टी) करनेकी अधार्मिक कृतिसे बचें ।



Leave a Reply

Your email address will not be published.

सम्बन्धित लेख


© 2021. Vedic Upasna. All rights reserved. Origin IT Solution