बकरीदपर योगी शासनका साहसिक आदेश – पशुओंको खुलेमें न कटें व रक्त नालियोंमें रक्त न बहे !


अगस्त २०, २०१८

उत्तर प्रदेशके मुख्यमन्त्री योगी आदित्यनाथने अधिकारियोंको स्पष्ट निर्देश दिए है कि बकरीदपर खुलेमें जानवर न काटे जाएं और नालियोंमें उनका रक्त न बहे ! मुख्यमन्त्रीने कहा है कि प्रशासन इसकी व्यवस्था करे ताकि दूसरे समुदायके लोगोंकी भावनाएं क्षुब्ध न हो । मुख्यमन्त्रीने शनिवारकी (१८ अगस्त) रात्रि राज्यभरके सभी वरिष्ठ प्रशासनिक एवं पुलिस अधिकारियोंके साथ ‘वीडियो कॉन्फ्रेन्सिंग’केद्वारा बैठक की और उन्हें निर्देश दिया कि बकरीदपर प्रत्येक स्थितिमें राज्यमें शान्ति व सद्भाव सुनिश्चित किया जाए ! साथ ही यह भी सुनिश्चित किया जाय कि खुलेमें जानवरोंकी बलि न तो दी जाए और न ही रक्त अथवा अन्य चीजें खुलेमें निस्तारित किए जाएं ।

मुख्यमन्त्रीने अधिकारियोंसे राज्यमें त्योहारको देखते हुए कानून-व्यवस्था बहाल रखने और बिजली-पानीकी आपूर्ति भी सुनिश्चित करने को कहा है । निर्देश यह भी दिया गया है कि संरक्षित जानवरोंकी बलि न हो, इसके लिए विशेष सावधानी बरती जाए । राज्यके पश्चिमी भागके अधिकारियोंको विशेष रूपसे चौकन्ना रहनेको कहा गया है । मुजफ्फरनगरके डीएम राजीव शर्माने ‘टाइम्स ऑफ इण्डिया’से कहा है कि मुख्यमन्त्रीके आदेशका प्रत्येक स्थितिमें पालन किया जाएगा । उन्होंने बताया है कि सोमवारको प्रान्तके सभी अधिकारियोंके साथ इसपर बैठक की गई है । इसके पश्चात अधिकारियों और समाजके भिन्न-भिन्न समुदायके प्रबुद्ध लोगोंके साथ भी बैठक की जाएगी ।

सीएमने उन प्रान्तोंके अधिकारियोंको निगरानी तेज करनेको कहा है, जहां-जहांसे बकरीदके समय कांवड यात्रा गुजरनी है । बकरीद बुधवारको (२२ अगस्त) मनाई जाएगी । बकरीदको ‘ईद-उल-अजहा’ या ‘ईद-उल-जुहा’ भी कहा जाता है । यह इस्लामके पवित्र त्यौहारोंमें एक है । यह बलिका दिवस भी कहलाता है । इस दिन बकरे या किसी अन्य पशुकी बलि दी जाती है ।

निर्दोष व मूक पशुओंकी खुलेमें बलि देकर, रक्त बहानेको रोकने वाले साहसिक निर्णयकी प्रशंसा करते हैं – सम्पादक, वैदिक उपासना पीठ

स्रोत : जनसत्ता



Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

सम्बन्धित लेख


© 2017. Vedic Upasna. All rights reserved. Origin IT Solution