प्रखर हिन्दू समाचार

सूरतमें मन्दिरों-घरकी छतपर ध्वनि-विस्तारक, प्रातः एवं सन्ध्या हनुमान चालीसा, शनिवारको सत्संग भी, धर्मके लिए हिन्दू हुए एकजुट


२० अक्टूबर, २०२१  सूरतके मन्दिरोंमें हनुमान चालीसाको ध्वनि-विस्तारकपर बजाते हुए ८ माह हो गए हैं । इसका आरम्भ सूरतके सोनी फलियासे हुआ, जहां देसाईनी पोल स्थित है । वहां श्रीसाईनाथ युवक मण्डल नामक एक युवा सङ्गठनने हनुमान चालीसाका पाठ दिनमें दो बार ध्वनि-विस्तारकपर करनेका निर्णय लिया था । कालान्तरमें इससे एक पवित्र और धार्मिक वातावरण […]

आगे पढें

‘हिन्दू सभ्यताका करते हैं सम्मान’, परिवर्तित किया गया ‘राममें रावणको देखने’वाले चलचित्रका (फिल्मका) शीर्षक, हिन्दुओंके विरोधका प्रभाव


२० सितम्बर, २०२१       रावण और ‘माता सीता’के मध्य अभद्रता और ‘श्रीराम’में रावणको दिखानेवाले चलचित्र, ‘रावण लीला’को लेकर हुए विरोधके पश्चात, चलचित्र निर्माताओंने इसका नाम परिवर्तित किया है । अब चलचित्रका नाम केवल ‘भवई’ है, जो ‘सिनेमाघरों’में १ अक्टूबर २०२१ को प्रसारित होगी ।        ‘पेन इंडिया लिमिटेड’ने इस चलचित्रमें दिखाए […]

आगे पढें

अब ‘रामचरितमानस’का जीवन दर्शन पढेंगे ‘बीए’के छात्र, मध्यप्रदेशके पाठ्यक्रममें महाभारत, योग और ध्यान भी सम्मिलित  


१३ सितम्बर, २०२१      मध्य प्रदेशके उच्च शिक्षा विभागने महत्त्वपूर्ण निर्णय लिया है । उच्च शिक्षा मन्त्री मोहन यादवने कहा है कि ‘बीए’ प्रथम वर्षके छात्र, अब से रामचरितमानसका जीवन दर्शन पढेंगे । श्रीरामचरितमानस, जब युवा पढेंगे तो मर्यादा पुरुषोत्तम श्रीरामकी भांति चरित्रका निर्माण होगा । भगवान श्रीराम अपार गुणोंके सागर हैं, उनके चरित्रमें […]

आगे पढें

बनारसकी भांति संस्कृतका केन्द्र बनेगा बसोहली, उपराज्यपाल मनोज सिन्हाने किया चूडामणि संस्कृत संस्थानका शिलान्यास


२१ अगस्त, २०२१       जम्मू-कश्मीर प्रशासन संस्कृत भाषाको प्रोत्साहन देनेके लिए यथासम्भव प्रयास कर रहा है । इसी शृङ्खलामें उपराज्यपाल मनोज सिन्हाने गुरुवार, १९ अगस्तको कठुआ जनपदके बसोहलीमें चूडामणि संस्कृत संस्थानके नूतन भवनका शिलान्यास किया ।       मनोज सिन्हाने कहा कि ५ आधिकारिक भाषाओंके साथ जम्मू-कश्मीर प्रशासन नई शिक्षा नीतिकी संस्तुतियोंके […]

आगे पढें

काबुलके रतननाथ मन्दिरके पुजारीने मन्दिरको त्यागनेसे किया मना, आस्था हेतु बलिदान देनेको सज्ज


१६ अगस्त, २०२१     अफगानिस्तानमें काबुल नगरके रतननाथ मन्दिरके पुजारी पण्डित राजेशने मन्दिर छोडनेसे मना किया है । पण्डितजीने कहा है कि ‘तालिबान’ चाहे उनकी हत्या भी कर दे, तो भी वह वहांसे भागनेवाले नहीं । मन्दिरकी सेवामें ही वह अपना जीवनदान देना उचित मानते हैं । अनेक हिन्दुओंने उसे काबुल नगरसे उन्हें पलायन करनेका […]

आगे पढें

पोलैंडमें पुस्तकालयकी भीतपर (दीवारपर) उकेरे गए उपनिषदके छन्द 


०६ अगस्त, २०२१        पोलैंडके पुस्तकालयकी भीतपर उकेरे गए उपनिषदके छन्दोंका एक चित्र ‘सोशल मीडिया’पर तीव्रतासे प्रसारित हो रहा है । यह चित्र पोलैंडके भारतीय दूतावासके आधिकारिक ‘ट्विटर हैंडल’से ‘ट्वीट’ किया गया है, जो अत्याधिक चर्चामें हैं । ‘ट्वीट’में लिखा गया है, ”यह कितना सुखद दृश्य है । यह ‘वॉरसॉ’ विश्वविद्यालयकी पुस्तकालयकी भीतें […]

आगे पढें

असम-मिजोरम सीमापर नियुक्त २ महिला अधिकारी,  नाम-कीर्ति और रमनदीप, मुख्यमन्त्री हिमंत बिस्वा सरमाने ‘मां दुर्गा’से की तुलना


०३ अगस्त, २०२१ विगतकालमें हुई हिंसके पश्चात असम और मिजोरमके शासन शान्ति स्थापित करनेकी दिशामें प्रयास कर रहे हैं । इस प्रकरणके पश्चातसे असमकी दो महिला अधिकारी चर्चामें हैं । ये दोनों अधिकारी इन दिनों सीमावाले क्षेत्रमें दिन-रात ‘पेट्रोलिंग’ कर रही हैं । कछारकी उपायुक्त कीर्ति जल्ली और ‘एसपी’ रमनदीप कौरको असम-मिजोरम सीमापर अस्थिर स्थितिसे […]

आगे पढें

मुख्यमन्त्री योगी आदित्यनाथके भयके प्रभावसे अपराधी ५ जिहादी अपराधियोंने किया ‘पुलिस’को समर्पण


०६ जुलाई, २०२१           विगत अनेक दिवसोंसे ‘फरार’ चल रहे उत्तर प्रदेशके ५ कुख्यात अपराधियोंने मुख्यमन्त्री योगी आदित्यनाथके भयसे सोमवार, ५ जुलाईको शामली जनपदमें ‘पुलिस’को आत्मसमर्पण कर दिया । ‘पुलिस’के सामने आनेसे पूर्व अपराधियोंने कहा कि वे सभी आपराधिक गतिविधियोंको त्यागना चाहते हैं; इसलिए उन्होंने आत्मसमर्पण करनेका निर्णय लिया है । […]

आगे पढें

उत्तर प्रदेशमें दुग्ध उत्पादनने बहाई उपजीविकाकी धारा, ग्रामीण क्षेत्रोंमें पशुपालकोंकी सङ्ख्यामें वृद्धि 


२ जुलाई, २०२१              राज्य शासनके प्रयासोंसे दुग्ध उत्पादनमें उत्तर प्रदेश अब देशमें प्रथम स्थानपर है । अमूल सहित ६ निवेशकोंने प्रदेशमें ‘डेयरी प्लांट’ स्थापित करनेके लिए १७२ करोडका निवेश किया है तथा १५ निवेशकोंने इसके लिए प्रस्ताव दिया है । भारतके दुग्ध उत्पादनका १७% उत्तरप्रदेशमें हो रहा है । […]

आगे पढें

उत्तरप्रदेशमें अब अवैध मजारें नही दिखेंगी 


१४ मार्च, २०२१ समाचारके अनुसार उत्तर प्रदेश शासनने मार्गोंके मध्य और मार्ग बाधित कर रहे हैं सभी अवैध धार्मिक स्थलोंको हटानेका आदेश दिया है और प्रशासनद्वारा इस निर्णयपर क्रियान्वयन करते हुए अनेक नगरोंसे अवैध कब्रों और मार्गोंपर बने अवैध मन्दिरोंको हटानेका कार्य आरम्भ कर दिया गया है । पहली कार्यवाही बाराबंकी जनपदमें मार्गके मध्य स्थित […]

आगे पढें

© 2021. Vedic Upasna. All rights reserved. Origin IT Solution