अध्यात्म

उपासनाके आश्रमके निर्माण कार्यके मध्य मिले सीखने योग्य तथ्य (भाग – ९)


इस प्रसंगसे मुझे दो बातें ज्ञात हुई, एक तो इस क्षेत्रमें जैविक खेतीके प्रसारकी बहुत अधिक आवश्यकता है और दूसरी बात कि आश्रम परिसरमें देशी गायोंकी गौशाला अति आवश्यक है !  ईश्वरीय कृपासे…..

आगे पढें

उपासनाके आश्रमके निर्माण कार्यके मध्य मिले सीखने योग्य तथ्य (भाग – ८)


उपासनाके आश्रमका निर्माण कार्य आरम्भ होनेके पश्चात मैंने पाया कि यहां सभी श्रमिक एवं मिस्त्री वर्ग अमावस्याको छुट्टी करते हैं, जब मैंने उनसे पूछा आपलोग ऐसा क्यों करते हैं ? तो उनके पास कोई उत्तर नहीं था…..

आगे पढें

उपासनाके आश्रमके निर्माण कार्यके मध्य मिले सीखने योग्य तथ्य (भाग – ७)


जब कोई वास्तु सात्त्विक होती है तो क्या-क्या हो सकता है यह मुझे उपासनाके आश्रम निर्माण करते समय सीखने हेतु मिला ! हमने आश्रमके निर्माण कार्यसे पूर्व एक छोटासा ध्यान कक्षका निर्माण सर्वप्रथम किया । उसमें हमें पिछले वर्षके चैत्र माहमें….

आगे पढें

उपासनाके आश्रमके निर्माण कार्यके मध्य मिले सीखने योग्य तथ्य (भाग – ६)


यह गुरुकृपा ही है कि हमें उपजाऊ भूमि मिली है ! मुझे सदैवसे ही आश्रम परिसरमें चारों और हरियाली चाहिए थी और इस बातका ध्यान हमारे भगवानजीको था ! इसलिए पिछले बरसातमें हमने आपातकालमें उपयोगी……

आगे पढें

उपासनाके आश्रमके निर्माण कार्यके मध्य मिले सीखने योग्य तथ्य (भाग – ५)


उपासनाके आश्रमकी भूमिमें नवम्बर २०१८ से ही कुछ न कुछ हम उगा रहे हैं, जैसे अभी तक चने, मूंगफली, अरहर(तुअर), गायोंके लिए हरा चारा एवं कुछ शाक लगा चुके हैं…….

आगे पढें

उपासनाके आश्रमके निर्माण कार्यके मध्य मिले सीखने योग्य तथ्य (भाग – ४)


वैदिक उपासना पीठका मुख्य कार्य धर्मप्रसार करना है; अतः भूमिका चयन करते समय वह जिज्ञासु एवं साधकोंके लिए आनेमें सुगम हो इस बातका भी हमें ध्यान रखना था ! भूमिका चयन करते समय कुछ भूमि हमें बहुत सस्ते मिल रहे थे……..

आगे पढें

उपासनाके आश्रमके निर्माण कार्यके मध्य मिले सीखने योग्य तथ्य (भाग – ३)


उपासनाके आश्रम हेतु जब हम प्रथम बार भूमिपर आये तो वास्तु तो सात्त्विक थी ही साथ ही ईशान कोणमें एक कुंआ बना हुआ था | उसमें जल भी था और वह कृषिकी सिंचाई हेतु बनायीं गई होगी इसलिए…..

आगे पढें

उपासनाके आश्रमके निर्माण कार्यके मध्य मिले सीखने योग्य तथ्य (भाग – २)


उपासनाके आश्रमके भूमिकी चयन हेतु जब हम (मैं और कुछ साधक) प्रथम बार इस स्थानपर पहुंचे थे तो वह गणेश जयंतीकी शुभ तिथि थी और भूमिपर एक काले रंगका नंदी घास चर रहा था और भूमिपर नीलकंठ…..

आगे पढें

उपासनाके आश्रमके निर्माण कार्यके मध्य मिले सीखने योग्य तथ्य (भाग – १)


हमारे श्रीगुरुने एक बार कहा था कि जब हम गुरुके स्थूल संरक्षणमें  रहते हैं तो गुरु हमारी प्रगति हेतु जो आवश्यक है वही साधना व सेवा हमसे करवाकर लेते हैं एवं हमारे लिए आवश्यक एवं योग्य मार्गदशन करते हैं  एवं जब हम उनके स्थूल संरक्षणसे बाहर जाते हैं तो ……

आगे पढें

मनोचिकित्सककी सहायता लेनेमें संकोच न करें !


साधको, जैसे शरीरके रुग्ण होनेपर हम चिकित्सकोंके पास जाते हैं, वैसे ही मन यदि सामान्य रूपसे वर्तन न कर रहा हो या वह आपके वशमें अधिकांश समय न रहता हो तो कृपया मनोचिकित्सककी सहायता लेनेमें संकोच न करें । हमारे यहां मनोचिकित्सककी अवधारणा इसलिए इतनी प्रचलित नहीं है; क्योंकि यह समाज सदैव ही धर्मनिष्ठ, ईश्वरनिष्ठ […]

आगे पढें

© 2017. Vedic Upasna. All rights reserved. Origin IT Solution